IPL 2020 सीजन का अब तक का सबसे रोमांचक मैच 27 सितंबर संडे को राजस्थान रॉयल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच खेला गया. पंजाब ने पहली पारी में 223 रन बनाए. जवाब में राजस्थान ने तीन गेंद और चार विकेट रहते टारगेट चेज़ कर लिया, और मैच जीत गई.

लेकिन इस मैच में एक कमाल किया था. किसने? राहुल तेवतिया ने. तेवतिया ने अपनी पारी की धीमी शुरुआत की. इतनी धीमी कि लोगों ने सोशल मीडिया पर लिखना शुरू कर दिया कि तेवतिया कहीं राजस्थान को मैच न हरवा दें. 17 ओवरों के बाद तेवतिया 23 गेंदों में 17 रन बनाकर खेल रहे थे. राजस्थान को मैच जीतने के लिए 18 गेंदों में 51 रन चाहिए थे. 18वें ओवर में तेवतिया ने गियर बदला. एक ही ओवर में पांच छक्के जड़ दिए. इस मैच में तेवतिया ने शानदार 53 रन बनाए और टीम को जीत दिलाई.

मैच के बाद राहुल तेवतिया ने इसका सीक्रेट बताया. उन्होंने कहा-

शुरू में जब मैं बैटिंग के लिए गया तो गेंद बल्ले पर नहीं आ रही थी. ऐसे में थोड़ा प्रेशर में था. मुझसे हिट नहीं हो रहा था तो भी मैं विकेट फेंककर नहीं आना चाहता था. संजू और रॉबिन भाई ने मुझे कॉन्फिडेंस दिया.

संजू ने क्या सलाह दी थी तेवतिया को?

तेवतिया ने बताया कि जब मुझसे बॉल मिस हो रही थीं तो संजू ने कहा था कि कोई बात नहीं. एक शॉट लगेगा तो फिर तू मारता रहेगा. मारता रह. कोई दिक्कत नहीं है. तेवतिया ने कहा कि सामने से इतना कॉन्फिडेंस मिलने के बाद मुझे लगा कि मैं किसी भी सिचुएशन से खेल खत्म कर सकता हूं. और हुआ भी यही. कई बार ऐसे कॉन्फिडेंस की बहुत जरूरत होती है.

तेवतिया ने कहा कि संजू मुझे बरसों से जानता है. उसने मुझे खेलते देखा है. नेट्स पर मैं जिस हिसाब से बैटिंग कर रहा था, तो उसे मुझ पर भरोसा था. वो शुरू से ही कह रहा था कि भाई तू टीम का गेम चेंजर है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here