फिर एक बार छाया असम पर बाढ़ का क़हर, लगातार बारिश के कारण ब्रह्मपुत्र नदी का जल स्तर बढ़ने से क़रीबन तीन लाख लोग आहत हुए है । बताया ज़ा रहा है, निचले इलाक़ों में पानी भरने की वजह से वहाँ के लोगों को राहत कैम्पों में पहुँचाया गया । बाढ़ के मुख्य केंद्र धेमाजी, लखीमपुर, नगांव, होजई, दर्रांग, बारपेटा, नलबाड़ी, गोलपारा, पश्चिम कार्बी आंगलोंग, डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया है ।

बाढ़ के पानी से दस ज़िलों को मिला कर तीन सौ गाँव प्रभावित हुए है । लाखों की संख्या में लोग बेघर हो गये । बताया जा रहा है कि गुवाहाटी नदी भी उफान पर है । बाढ़ के कारण सड़क पुल तथा अन्य बुनियादी ढाँचे गम्भीर रूप से ध्वस्त हुए है, जिस कारण लोगों को बचाव कैम्पों में जाने में दिक़्क़त आ रही है । प्रभावित क्षेत्रों में कुल ९१ राहत कैम्प खोलो गए है, इन शिविरों में अब तक 16000 लोगों में शरण ली है । बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में बचाव कार्य जारी है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here