पूरे विश्व में फ़ादर्स डे जून महीने के तीसरे रविवार को मनाया जाता है। आज इजहार और खुशियाँ वयक्त करने के अंदाज में थोड़ा बदलाव है। इस दिन सभी बच्चे अपना यह दिन अपने पिता के साथ व्यतीत करते हैं और उनके जीवन में उनके पिता का क्या महत्व है वह व्यक्त करने की कोशिश करते हैं। सभी बच्चों की यही कोशिश रहती है कि वह अपने पिता के लिए कुछ अलग करे उन्हें अच्छा महसूस कराए, बच्चों के जीवन में पिता की जो अहमियत होती है उससे रूबरू कराए। इस दिन बच्चे अपने पिता को उपहार देते हैं तथा केक कट करते हैं, उनके साथ बाहर घूमने जाते हैं तथा अपना सम्पूर्ण दिन उनके साथ बिताते हैं। सोशल मीडिया पर अपने साथ पिता की फ़ोटो साझा कर अपने दिल की बात लिखते हैं और प्यार जताते हैं धन्यवाद करते हैं उनको इस दुनिया में लाने का।
विश्व का सर्वप्रथम फ़ादर्स डे 19 जून 1910 को बनाया गया, फादर्स डे मनाने का विचार पहली बार सोनेरा डोड के मन में आया क्योंकि जब वह छोटी थी तभी उनके माता का स्वर्गवास हो गया, अब सोनेरा डोड की पूरी ज़िम्मेदारी उनके पिता पर थी, उनके पिता ने यह ज़िम्मेदारी बख़ूबी निभाई और उनका बेहद ख्याल रखा। जब सोनेरा डोड बड़ी हुई तब उन्होंने सोचा पिता हमारे लिए सब कुछ करते हैं क्यों ना एक दिन पिता के लिए मनाया जाए तब से फादर्स डे की शुरुआत हुई।
1924 में अमेरिकी राष्ट्रपति कैल्विन कोली ने फादर्स डे पर अपनी सहमति व्यक्त की। फिर 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जानसन ने जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा की।1972 में अमेरिका में फादर्स डे पर स्थायी अवकाश घोषित किया गया। इसी प्रकार फादर्स डे आज पूरे विश्व में मनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here