पूरे भारत में आज एक जून के दिन गंगा दशहरा उत्सव मनाया जा रहा है, हिन्दू धर्म में इस दिन की बहुत महत्वता है। बताया जाता है, भगीरथी की तपस्या के बाद गंगा माता ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की दशमी के दिन ही धरती पर अवरित हुईं थी। इस दिन दान पूर्ण करना बहुत शुभ माना जाता है, कहा जाता है कि आज के दिन गरीबों और ब्राह्मणों को भोजन वस्त्र आदि दान करने से पापों का प्रायश्चित होता है।

भगवान से अपने पापों की क्षमा माँगने के लिए आज सबसे शुभ दिन है, लोग आज के दिन गंगा स्नान करते हैं, तथा गंगा मैया से अपने पापों को क्षमा करने के लिए प्रार्थना करते हैं। आज के दिन जगह जगह पर भंडारा होता है तथा मीठा पानी बाँटा जाता है। हरिद्वार में यह पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है, विभिन्न स्थानों से लोग इस पर्व को मनाने के लिए हरिद्वार जाते हैं, तथा गंगा में खड़े होकर गंगा स्त्रोत पढ़ते है। लेकिन लॉकडाउन के चलते इस साल यह संभव नहीं है न तो श्रद्धालु हरिद्वार पहुँच पाएँगे न ही गंगा में स्नान कर पाएंगे, ऐसे में श्रद्धालु गंगाजल की कुछ बूंदें अपने नहाने के पानी में मिलाकर स्नान कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here