भारत चीन सीमा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा, सोमवार को लद्दाख गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में भारतीय 20 जवान शहीद हो गए, भारतीय सूत्रों के मुताबिक़ चीन को भी इस झड़प में भारी नुक़सान उठाना पड़ा चीन के लगभग 43 जवान जिनमें कुछ जवान को मार गिराया गया तथा उसमें से कुछ गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इस झड़प में भारत और चीन दोनों तरफ़ नुक़सान हुआ, अगर भविष्य में भी ऐसी झड़प देखने को मिली तो दोनों देशों को कठिनाई का सामना करना पड़ेगा। ख़बर है कि यह झड़प 15 और 16 जून की मध्यरात्रि हुई उस समय हमारे जवान आराम कर रहे थे। पूर्वी लद्दाख के सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिति में सुधार लाया जा सके इसके लिए राजनैतिक तथा सैनिक स्तर पर लगातार बैठक की जा रही है।
चीन में इस घटना का ज़िम्मेदार भारत को ठहराया जा रहा है उनके मुताबिक़ भारत ने LAC पार कर चीनी सेना में दाख़िल होने की कोशिश की इसलिए इस झड़प को अंजाम देना पड़ा।कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत अन्य नेताओं ने सैनिकों की शहादत पर दुख जताते हुए ट्विटर पर ट्वीट किए। वाक़ई यह पूरे देश के लिए दुख की घड़ी है, जहाँ भारत एक तरफ़ कोरोना का उपचार ढूंढने में लगा है वहीं चीन लद्दाख में एक नई बीमारी के रूप में खड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here