PATNA : महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भले ही अपनी सरकार को नहीं बचा पाए हो, लेकिन बिहार चुनाव का जिम्मा उन्हें दिया गया है. बिहार चुनाव के लिए प्रभारी बनाए गए देवेंद्र फडणवीस ने पहली बार पटना पहुंचे हैं और पटना पहुंचते ही उन्होंने बीजेपी का चुनावी एजेंडा सेट कर दिया है. देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि बिहार का विकास में केवल वही सरकार कर सकती है जो नरेंद्र मोदी के साथ कदम से कदम मिलाकर चले. नरेंद्र मोदी के बिना बिहार का विकास नहीं हो सकता है.

नीतीश शासन में हुआ विकास

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बिहार में सीएम नीतीश कुमार और सुशील मोदी की जोड़ी ने बिहार के विकास को लेकर बहुत काम किया है. अगर लालू प्रसाद के शासनकाल से इसकी तुलना करें तो जो आकंड़ा आएगा वह विकास की गाथा बताएगा. देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान कई चुनौतियों के बाद भी पीएम मोदी ने काम कर रहे आत्मनिर्भर भारत के साथ आत्मनिर्भर बिहार बनाने की योजना शुरू किया है. जो भी चुनौती है उसको अवसर में बदला जा रहा है. पहले विकास का पैकेज इतना बड़ा तैयार नहीं होता था, लेकिन अब मोदी सरकार में हो रहा है. जो भी योजना बन रहा है. वह पेपर पर नहीं बल्कि धरातल पर दिखता है. किसान, युवा, छोटे कारोबारी, बुनकर, पशुपालन को लाभ मिलता है. पीएम मोदी ने बिहार के लिए कई योजनाओं को शिलान्यास और उद्घाटन किया है.

सुशांत चुनावी मुद्दा नहीं

सुशांत सिंह राजपूत को लेकर देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बिहार चुनाव का मुद्दा सुशांत सिंह राजपूत नहीं हैं. बिहार और पूरे भारत के बेटे थे. इस तरह से उनकी मृत्यु के बाद अलग अलग तथ्य बाहर आने शुरू हो गए तो देश के आम आदमी को लगा कि इसकी जांच होनी चाहिए. इसी के कारण अब सीबीआई मामले की जांच कर रही है. कंगना रनौवत लगातार अन्याय के खिलाफ आवाज उठा रही थी और इस केस के बारे में बोल रही थी. महाराष्ट्र की सरकार या भूल गई है कि वह कोरोना से लड़ रही है वह कंगना के ऑफिस तोड़ने में लगी हुई है.

एनडीए में सब ठीक हैं

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मुझे लगता है एनडीए सब कुछ ठीक हो जाएगा. अलग-अलग दलों की अपनी-अपनी विचारधारा होती है. एनडीए मजबूती के साथ चुनाव में जाएगा. सारी दिक्कतों को बैठकर सुलझा लेंगे. एनडीए से कोई नहीं जाएगा यहां पर कई लोग आएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here