प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त देश को संबोधित कर रहे हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन को लागू किया गया है. कोरोना संकट काल में राष्ट्र के नाम यह प्रधानमंत्री का चौथा संबोधन है. पीएम मोदी ने कहा कि एक वायरस ने दुनिया को तहस-नहस कर दिया है. दुनिया में अब तक 4 मिलियन से ज्यादा की आबादी इसकी चपेट में आ गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि थकना, हारना, टूटना-बिखरना, मानव को मंजूर नहीं है. सतर्क रहते हुए, ऐसी जंग के सभी नियमों का पालन करते हुए, अब हमें बचना भी है और आगे भी बढ़ना है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में कहा कि एक राष्ट्र के रूप में आज हम एक बहुत ही अहम मोड़ पर खड़े हैं. इतनी बड़ी आपदा, भारत के लिए एक संकेत लेकर आई है, एक संदेश लेकर आई है, एक अवसर लेकर आई है. जब कोरोना संकट शुरु हुआ, तब भारत में एक भी पीपीई (PPE) किट नहीं बनती थी. एन-95 मास्क का भारत में नाममात्र उत्पादन होता था. आज स्थिति ये है कि भारत में ही हर रोज 2 लाख PPE और 2 लाख एन-95 मास्क बनाए जा रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक वायरस ने दुनिया को तहस-नहस कर दिया है. विश्व भर में करोड़ों जिंदगियां संकट का सामना कर रही हैं. सारी दुनिया, जिंदगी बचाने की जंग में जुटी है. पीएम के इस संबोधन को लेकर तमाम कयास लगाए जा रहे थे. बीते दिन सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगभग 6 घंटे तक विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी. इस बैठक में सभी मुख्यमंत्रियों ने पीएम के सामने कोरोना को लेकर अपनी बात रखी थी. लॉकडाउन 3.0 पांच दिन बाद यानि 17 मई को खत्म हो रहा है. कई मुख्यमंत्रियों ने इस महीने के अंत तक लॉकडाउन को जारी रखने की अपील की थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की थी. इस दौरान उन्होंने लॉकडाउन बढ़ाए जाने के संकेत दिए थे. दरअसल, देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. आज कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2,293 तक पहुंच गई जबकि संक्रमितों की संख्या 70,756 हो गई है. सोमवार सुबह आठ बजे से 24 घंटे के भीतर 3,604 नए मामले सामने आए हैं और 87 लोगों की मौत हुई है. देश में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन 25 मार्च से लागू है. लॉकडाउन का दूसरा चरण तीन मई को समाप्त हुआ था, जबकि पहला चरण 14 अप्रैल को समाप्त हुआ था.

Input – Bihar1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here