यह पूरा मामला केरल के मलप्पुरम का है, एक गर्भवती हथनी खाने की तलाश कर रही थी। लेकिन किसी व्यक्ति ने अपनी शर्मनाक हरकत को अंजाम देने के लिए गर्भवती हथनी को पटाखों से भरा एक अनानास खिला दिया, अनानास खाने के बाद वह गर्भवती हथनी के मुँह में ही फट गया। जिस कारण हथनी का मुँह ज़ख़्मी हो गया, लेकिन वह अभी भी भूखी थी, भूख के कारण वह खाने की तलाश में वेल्लियार नदी तक पहुँच गई, वहाँ उसे खाना तो नहीं मिला लेकिन पानी में अपनी ज़ख़्मी सूँड़ डालने से आराम ज़रूर मिला। गर्भवती हथनी अपने ज़ख़्मी शरीर को लेकर वेल्लियार नदी में पूरे तीन दिन तक खड़ी रही। जैसे ही गर्भवती हथनी की ख़बर वन विभाग को मिली वे वैसे ही हथनी के रैस्क्यू के लिए दौड़ पड़े। गर्भवती हथनी का रेस्क्यू ऑपरेशन काफ़ी देर तक चला रेस्क्यू के बाद गर्भवती हथनी ने शनिवार को दम तोड़ दिया। सर्व प्रथम यह जानकारी वन विभाग अधिकारी मोहन कृष्णन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट जारी करते हुए दी। यह सारे मामले इंसानियत को शर्मसार करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here