सुशांत सिंह की मौत की ख़बर सुनने के बाद उनके फैंस और उनके घर वाले सदमे में आ गए हैं उन्हें यक़ीन ही नहीं हो रहा सुशांत सिंह आत्महत्या कर सकते हैं, सुशांत सिंह राजपूत के परिवार वालों ने CBI से मदद माँगी है, उनके अनुसार सुशांत आत्महत्या नहीं कर सकते यह किसी की साज़िश है और उनका मर्डर किया गया है। उनके क़रीबी लोगों से पता चला कि सुशांत को डिप्रेशन था, उनकी डिप्रेशन का इलाज हिंदुजा अस्पताल के डॉक्टर की केरसी चावला द्वारा चल रहा था। कुछ दिनों बाद उनके डिप्रेशन का कारण पता चला कि उन्हें सभी फ़िल्म निर्माताओं ने बैन किया हुआ था, अपने हाथों से फ़िल्म छीन लेने के कारण वे बहुत मायूस हुए और धीरे – धीरे डिप्रेशन का शिकार होते चले गए। सुशांत को अपना करियर ख़त्म होते नज़र आया।
सुशांत को फ़िल्म निर्माताओं द्वारा बैन करने की बात का पता चलने के बाद बॉलीवुड जगत को दो हिस्सों में बाँटा जा रहा है, परिवारवाद और सेल्फ़ मेड स्टार। बॉलीवुड जगत में परिवार बाद तक़रीबन दशकों से चला आ रहा है जिसमें हीरों का बेटा हीरों तथा हीरोइन की बेटी हीरोइन बनती है, सैल्फ मेड स्टार को बॉलीवुड जगत में तबज्जो नहीं दिया जाता, उन्हें दबाने की कोशिश की जाती है, सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सोशल मीडिया पर ये ख़बर बहुत तेज़ी से वायरल हो रही है जिसमें बताया जा रहा है आत्महत्या करते वक़्त सुशांत के कमरे में कोई टेबल या स्टूल मौजूद नहीं था तो वह केवल बेड के द्वारा पंखे से कैसे लटक सकते हैं, उनके फाँसी के फंदे पर उँगलियो के निशान तक बरामद नही हुए। सुशांत के घर के सभी CCTV कैमरे एक दिन पहले बंद कर दिए जाते हैं और उनके घर की डुप्लीकेट चाबी भी उनके घर से ग़ायब है।
सुशांत अपनी मौत से तक़रीबन दो घंटे पहले बाहर टहलने निकले थे। सुशांत के घर के पास रहने वाले पड़ोसियों का कहना है कि उनकी मौत से एक रात पहले सुशांत के घर से पार्टी की आवाज़ें आती रही है, यह सभी बातें इस ओर इशारा करती है की सुशांत डिप्रेस्ड इस कद्र नहीं थे की आत्महत्या कर ले।
अभी इन सभी बातों का पुलिस प्रशासन द्वारा पुष्टिकरण नहीं आया है लेकिन आज देश भर में यही प्रार्थना है सुशांत के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सज़ा दी जाए। आज उन्हें इंसाफ़ दिलाने की गुहार की ज़ा रही है, पुलिस की सुशांत के क़रीबी अभिनेता और श़क के दायरे में जितने फ़िल्म निर्माता हैं उनसे पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here