कोरोना जैसी महामारी के चलते वीरेंद्र सहवाग मज़दूरों के लिए मसीहा बन गए हैं, क्रीज़ पर तो वह अपनी पारी से सभी का मन मोह लेते थे, लेकिन महामारी के समय भी वीरेंद्र सहवाग और उनकी टीम ने कुछ ऐसा कर दिखाया, जिसे देखकर आज पूरा देश उनकी वाहवाही कर रहा है। पूरे देश में संपूर्ण लॉक डाउन के चलते लोगों को तरह – तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, लॉकडाउन को चलते दो महीने से ऊपर हो गए हैं। सबसे अधिक परेशान आज हमारा मज़दूर वर्ग है, मज़दूरों को अपने घर वापस जाना है, साधन उपलब्ध नहीं है, इसलिए वह पैदल ही अपने घर जाने को उतारू हो चुके हैं। न तो उनके पास पैसे हैं न ही खाना बस भूखे प्यासे पैदल ही चले जा रहे हैं, उनकी इस बेबसी को देखकर कई सितारे, मदद को सामने आए है। जहाँ एक तरफ़ सोनू सूद मज़दूरों को उनकी घर वापसी के लिए साधन मुहैया करा रहे हैं वहीं दूसरी तरफ़ वीरेंद्र सहवाग फ़ाउंडेशन लोगों को खाना उपलब्ध कराने का कार्य कर रही है उन्होंने “feed with love” मुहिम लागू की है जिसके अंतर्गत वह ज़रूरतमंद लोगों को खाना उपलब्ध कराते हैं।

वीरेंद्र सहवाग फ़ाउंडेशन की लोगों से यह भी अपील है, जो लोग इस कार्य में रुचि रखते हैं वह वीरेंद्र सहवाग फ़ाउंडेशन टीम से संपर्क कर सकते हैं, जो लोग इस मुहिम में हिस्सा लेंगे उन्हें कम से कम सौ व्यक्तियों का खाना उपलब्ध कराना होगा, उनकी टीम आपके घर से खाना प्राप्त करेगी । वीरेंद्र सहवाग ने लोगों से यह गुज़ारिश भी है कि जो लोग इतने लोगों का खाना बनाने में असमर्थ है वह अपने आस पास जो जरूरतमंद लोग है, दोपहर के समय पानी या शरबत पिला सकते है। वीरेंद्र सहवाग ने नियमों के पालन पर भी ज़ोर दिया। सहवाग ने पोस्ट में लिखा, “घर में बैठकर खाना बनाकर और उसे पैक कर इस मुश्किल समय में जरूरतमंद प्रवासी मजदूरों तक पहुंचाकर जो संतुष्टि मिली है, उसकी तुलना बहुत कम चीजों से की जा सकती है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here