भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह के करियर की शुरुआत 2000 में हुए भारत बनाम केन्या वनडे मैच से हुई। युवराज सिंह की आक्रामक बल्लेबाज़ी पर दुनिया क़ायल है। युवराज सिंह दुनिया के पहले ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने एक मैच में दो विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किए, यह रिकॉर्ड इन्होंने 2007 विश्व कप में इंग्लैंड के विरुद्ध 6 बॉल पर 6 छक्के मारकर तथा 12 बॉल में 50 रन पूरे कर अपने नाम किए। युवराज के पिता योगराज पूर्व क्रिकेटर रह चुके हैं, वह है अपने भारतीय बल्लेबाज़ होने का श्रेय अपने पिताजी को देते हैं। युवराज का जीवन काफ़ी उतार चढ़ाव से भरा रहा है, जब युवराज का करियर अपनी चरम सीमा पर था तब वह एक जानलेवा बीमारी से ग्रस्त हो गए लेकिन युवराज ने तब भी हार नहीं मानी वह योद्धा की तरह लड़े और उस बीमारी को मात देकर वापस लौटे। युवराज सिंह ने आईपीएल की शुरुआत पंजाबी टीम से की बाद में वह अन्य टीमों के साथ भी खेलते देखे गए। 30 नवम्बर 2016 को वह हेज़ल कीच के साथ शादी के बंधन में बंध गए। साल 2019, 10 जून को युवराज सिंह ने अपने 17 साल पुराने करियर को अलविदा कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here